Breaking news

  • दिल्ली: केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा के निवास पर पहुंचे। उन्हें असम विधानसभा चुनाव के अतिरिक्त प्रभारी के रूप में नियुक्त किया गया है।   
  • हम दो नए कृषि सुधार बिल लाए हैं और आवश्यक वस्तु अधिनियम में संशोधन किया है। इनसे कृषि क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव आने की उम्मीद है: एशिया पैसिफिक रूरल एंड एग्रीकल्चर क्रेडिट एसोसिएशन द्वारा नाबार्ड के सहयोग से क्षेत्रीय नीति फोरम की बैठक में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर   
  • दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वसंत कुंज के फोर्टिस अस्पताल में कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली ड़ोज ली। #CovidVaccine   
  • आगरा: ताजमहल परिसर में बम ब्लास्ट की सूचना मिलने के बाद परिसर में सर्च किया जा रहा है।   
  • दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली डोज़ ली।   

देश

साप्ताहिक राशिफल - पं. अशोक दीक्षित दिनांक - 07 से 13 फरवरी, 2021

यह राशिफल जन्मकालीन चंद्र राशि पर आधारित है। जिनकी जन्मकालीन राशि ज्ञात नहीं है वे नाम राशि के आधार पर पढ़ सकते हैं।

मेष - यह सप्ताह पुनरुद्धार और पुनर्नियोजन को समर्पित है। हिम्मत से काम लेकर बिगड़ी हुई कुछ परिस्थितियों को साधा जा सकता है, साथ ही जिन रिश्तों में कुछ कड़वाहट सी पनप रही है, उनको भी सुधारने पर ध्यान देंगे। यह सप्ताह कार्य-व्यवसाय और योजनाओं के क्रियान्वयन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। कुछ बड़े व सामथ्र्यवान लोगों या संस्थाओं की सहायता से काम बन सकते हैं। यदि कोई संस्था या कम्पनी चलाते हैं तो कार्य तंत्र में जो अवरोध उपस्थित हैं उन्हें खोजेंगे और दूर करने का प्रयास करेंगे। अपनी आय की सुनिश्चितता के साथ तदनुरूप खर्च और क्रियाशीलता रखेंगे तो सुरक्षित रहेंगे। इस समय सर्वाधिक महत्वपूर्ण है, प्राथमिकता के आधार पर उचित समय पर उचित निर्णय लेना। अपनी ऊर्जा व सामथ्र्य का बिखराव न हो, इसका ध्यान रखें। राशि से दशम कई ग्रहों की उपस्थिति समय को बलवान बना रही है। तीन प्रमुख ग्रह अभी अस्त हंै, इसलिए व्यर्थ के कार्यों और प्रस्तावों पर अधिक भरोसा न करें। स्वास्थ्य में सुधार होगा। माता को या किसी मित्र को तकलीफ हो सकती है और आपको सेवा का अवसर मिलेगा।

वृषभ - इस सप्ताह अपने आचार-व्यवहार और कार्य-व्यवसाय में संतुलन बना कर रखना होगा। दैनिक रूप से उत्पन्न दुविधाओं को विवेक से पार करना होगा। कभी लगेगा स्वास्थ्य महत्वपूर्ण तो कभी व्यापार। किसी साझेदारी या व्यावसायिक संधि में उत्पन्न अव्यवस्था को साधने हेतु कुछ संशोधन या परिवर्तन कर लेना उचित होगा, तात्कालिक हानि-लाभ से डरकर किसी समस्या को अब आगे ढोना ठीक नहीं होगा। उन्नति का मार्ग या आय वृद्धि का प्रयास यद्यपि अभी बाधा रहित नहीं है, तथापि स्वस्थ व शांत मन से निर्णय लेंगे तो सफलता मिलेगी। अचानक से किसी यात्रा का प्रस्ताव आप टाल नहीं सकेंगे और कुछ कार्य भी इससे प्रभावित होंगे। किसी शत्रु विवाद के उभरने व कुछ नुकसान के साथ उसका समाधान होने की सम्भावना है। राशि से बारहवें मंगल और नवम अधिकांश ग्रहों की उपस्थिति जीवन संघर्ष को एक नई दिशा देना चाहती है। अपनी योग्यता व सामथ्र्य की वृद्धि के लिए कोई मजबूत योजना बनानी होगी। तकनीकी सहायता आपके लिए आवश्यक है। स्वास्थ्य के प्रति गम्भीर रहना होगा। निजी रिश्तों की कठोरता से अभी अधिक चिंताग्रस्त न होकर कार्य-व्यवसाय में व्यस्तता रखेंगे तो उचित है। व्यावसायिक रूप से किसी बड़ी जोखिम लेने से पूर्व पृष्ठभूमि मजबूत कर लेना ठीक होगा।

मिथुन - यह सप्ताह कुछ विशेष और बहुमुखी घटनाओं को उत्पन्न करने वाला है। आप अवरुद्ध चल रहे कार्यों को साधना चाहेंगे परंतु व्यक्तिगत व पारिवारिक रूप में उत्पन्न स्थिति योजना में बाधा उत्पन्न करेगी। कोई बड़ा संकल्प या निर्णय करना चाहते हैं तो दाएं-बाएं चल रही स्थिति व व्यवहार संबंधी बातों को नजरंदाज कर, मनमर्जी करने की गलती न करें। स्वास्थ्य के संबंध में कुछ जांच करवाकर उचित समाधान अपनाएंगे। इस समय राशि के सापेक्ष लगभग सभी ग्रह प्रतिकूल हैं, केवल मंगल थोड़ी अनुकूलता लिए हुए हैं और आवश्यकतानुरूप अर्थ प्रबंध थोड़ी असुविधा के साथ करा देंगे।  राशि से 6, 8 और 12वें ग्रहों की उपस्थिति आपको चेतावनी दे रहे हैं कि अब तो आप लाइन पर आ जाएंगे, अव्यवस्थित चल रही जीवनचर्या को अब साधना ही होगा अन्यथा भारी तकलीफ हो सकती है, अपयश प्राप्त हो सकता है। कार्यों के प्रति गम्भीर होकर हर सम्भव प्रयास व कोशिश करनी होगी, अन्यथा भाग्य से प्राप्त उन्नति के अवसर का नाश हो जाएगा। आपकी प्रचलित प्रतिष्ठा पर आंच आ सकती है। राशि स्वामी बुध वक्री हैं और अस्त भी हैं। अपने मन से निर्णय लेने की अपेक्षा, विद्वानों व बुजुर्गों की सलाह से काम करेंगे तो ठीक रहेगा। इस सप्ताह चंद्रमा आपके लिए बेहद खास हैं और एक संकोच सा उत्पन्न करेंगे, जिसके कारण कार्य-व्यवहार की सफलता पर शंका उत्पन्न होगी। इन दिनों भौतिक सुख-सुविधा से परे धार्मिक व आध्यात्मिक प्रयोग अधिक शांतिदायक रहेंगे।

कर्क- यह सप्ताह भावनाओं के अतिरेक पर अंकुश रखकर उचित निर्णय लेने वाला है। एक तरफ आर्थिक विषमता भावी योजनाओं में संकट उत्पन्न करेगी, वहीं स्वास्थ्य का पाया भी कुछ नरम सा रहेगा। शीत प्रभाव और उदर संबंधी विकार परेशान कर सकते हैं। जहां से पर्याप्त और अधिक लाभ की अपेक्षाएं थीं वहां से सीमित ही प्राप्ति होगी। पारिवारिक व कार्यालयी साथी व सहयोगी अभी आपको ऐसे लगेंगे, जैसे सभी लोग स्वार्थी हैं, आपकी मदद करना ही नहीं चाहते परंतु यह आप के भाग्य की बिडम्बना ही है कि आपके सहयोगी व मददगार भी कष्ट में चल रहे हैं।  बच्चों के नाम से सुरक्षित किसी संचित निधि को प्रयोग में लेने की कोशिश करेंगे। अन्य शहरों से या बाहर के लोगों से सम्पर्क बढ़ाएंगे तो कोई नया रास्ता मिलेगा और आपको थोड़ी राहत मिलेगी। सीमित लाभ में भी यदि कोई काम करना पड़े तो प्रमाद न करें। नौकरी करते हैं तो इस समय कार्यस्थल के वातावरण पर पैनी नजर रखकर काम करें। अनावश्यक कोई पराई समस्या आपके गले पड़ सकती है। जीवन साथी के मत को सुनना व समझना अभी बेहद आवश्यक है।

सिंह - यह सप्ताह आर्थिक गणित को सम्हालते हुए भावी योजनाओं के निर्माण का है। कर्ज संबंधी मामलों को गम्भीरता से लेकर, कोई सुरक्षित और सरल मार्ग का निर्धारण करना होगा। संतान को लेकर चल रही चिंता का समाधान प्राप्त होगा। यदि कोई शत्रु विवाद चल रहा है या अन्य कोई सम्पत्ति विवाद उपस्थित है तो आपको धैर्य का परिचय देकर घटनाक्रम को आगे के लिए टाल देना उचित होगा। आपकी राशि के स्वामी राशि से छठे चल रहे हैं और अन्य 4 ग्रह भी छठे भाव में ही हैं। यह शांति बरतने का समय है। इस समय आपके लिए बाहरी शांति से अधिक भीतर की शांति या मानसिक शांति आवश्यक है। इसके लिए उचित है कि आप ईश्वर भजन-सुमिरन का समय बढ़ावें। स्वास्थ्य रक्षा हेतु योग और व्यायाम का सहारा भी लेें। व्यर्थ के प्रलोभनों से बचकर रहें, इनमें धोखा या षडय़ंत्र के सिवाय अभी कुछ नहीं। यह समय शांत मन से योजना निर्माण का है। जितनी अच्छी योजना अभी बनाएंगे भविष्य में उतने ही सुदृढ़ रह सकेंगे। किसी भी सूरत में गतिशील कार्य में तात्कालिक योजना परिवर्तित न करें। पारिवारिक सदस्यों में तालमेल बनाकर रखने में अपनी सूझबूझ का परिचय देना होगा। अपनी कार्य-प्रणाली को नियंत्रित करके चलना बेहतर रहेगा।

कन्या - यह सप्ताह स्वयं को सुव्यवस्थित और सुरक्षित  बनाने का है। स्वास्थ्य को ठीक रखना सर्वाधिक आवश्यक है। किसी भी सम्पत्ति का क्रय-विक्रय करना चाहते हैं तो थोड़ा धैर्य से काम लें, तत्परता से कोई निर्णय न करें। संतान को कोई असुविधा या कष्ट सम्भावित है। आपको सामथ्र्य से ऊपर उठकर उनकी मदद करनी होगी। इन दिनों अपने गुरु या योग्य विद्वान से की गई मंत्रणा आपके लिए राहत देने वाली हो सकती है। आय वृद्धि हेतु कुछ सम्पर्कों या संबंधों को पुनर्जीवित करने का प्रयास आपको करना होगा। कार्यों में सावधानी बरतेंगे तो दुर्घटना से रक्षा हो जाएगी। आपको अभी अपने दाएं-बाएं असहयोग सा अनुभव होगा, इसलिए जितना स्वयं कार्य कर सकें या निभा सके, उसी में संतुष्ट रहना उचित है, व्यर्थ में ही किसी रिश्ते या संबंध को लेकर अनुचित धारणा न बनाएं। आपके राशि स्वामी बुध अभी अस्त हैं और वक्री भी हैं तो सावधान रहें और ध्यान रखें, जैसा आप सोचे वैसा ही होगा, ऐसी गलत धारणा न रखें। आपको विवेक ही इस समय आपका सबसे बड़ा सहारा है। यदि नौकरी करते हैं तो अपनी कार्य प्रणाली की गति और कार्य की अवधि दोनों को बढ़ाना उपयुक्त होगा। किसी तरह के नवीन आदेश आपको थोड़े परेशान करेंगे परंतु प्रतिक्रिया से बचकर कार्य सम्पादन पर ध्यान देना ही अभी ठीक होगा।

तुला- यह सप्ताह संघर्ष और परिश्रम का है। व्यक्तिगत जीवन में उत्पन्न विषय कार्य-व्यवसाय की गति में अवरोध उत्पन्न कर सकते हैं। निजी कुछ कारण ऐसे हो सकते हैं जिन्हें किसी से सहज में कह भी नहीं पाएंगे। स्वाभाविक कुछ कमियों या कमजोरियों का अहसास होगा और उनके समाधान हेतु कोई मार्ग खोजेंगे। राशि से केन्द्र में सर्वाधिक ग्रहों की उपस्थिति आपको प्रेरित करेगी कि आप अपनी सामथ्र्य और क्षमता का वास्तविक आकलन करें और तदनुरूप निर्णय लें। निजी संबंधों की किसी भी तरह अनदेखी आपको नहीं करनी चाहिए। अन्यथा वे कोई और मार्ग अपना सकते हैं जो शायद आपको पसन्द न आवे। किसी व्याप्त समस्या को हानि-लाभ की चिंता किए बिना समाप्त करने का निर्णय ले सकते हैं। किसी सम्पत्ति का क्रय-विक्रय हो सकता है। अचानक से प्राप्त धन से थोड़ी राहत मिलेगी, लेकिन आवश्यक यह है कि आप उस राशि का मितव्ययता से सदुपयोग करें, वरना धन भी चला जाएगा और काम भी नहीं होगा। नए मित्रों या साझेदारों पर भरोसा अधिक न करें। नए प्रस्तावों में निहित नकारात्मकता का परीक्षण गहराई से करना होगा। नौकरी पेशा हैं तो कार्यों में लापरवाही न करें। आक्षेप या उलाहने से आहत होकर अनुचित प्रतिक्रिया न दें अन्यथा किसी कानूनी समस्या से सामना हो सकता है।

वृश्चिक - इस सप्ताह यह स्मरण रखना होगा कि 'एक साधे सब साधे, सब साधे सब जाएÓ मानसिक चिंतन और क्रियान्वयन को लक्ष्य केन्द्रित रखेंगे तो फायदे में रहेंगे, अन्यथा परिश्रम व्यर्थ हो जाएगा। साहस के अतिरेक और कल्पित योजनाओं में उलझकर कोई जोखिम न लें। व्यवसायिक संधि पर निर्णय गम्भीर चिंतन के बाद ही लेवें। कर्ज का बोझ कुछ कम होगा।  कोई सम्पत्ति विवाद उभरेगा और उसका निराकरण आप कर लेंगेे। राशि स्वामी मंगल राशि से छठे अभी शत्रु नवांश में हैं, इसलिए किसी व्यावसायिक सहयोगी से तीखी वार्ता सम्भावित है। आपको नीतिगत व्यवहार अपनाना होगा। राशि में चल रहे केतु अभी कुंभ नवांश में हैं और शनि अस्त हैं। परिजनों की संतुष्टि की ही पुष्टि करें, स्वसंतुष्टि की कामना अभी व्यर्थ है। व्यर्थ ही किसी निर्णय को परिवार पर थोपेंगे तो विरोध सहना पड़ सकता है। कर्मचारियों के प्रति भी सहानुभूति प्रकट करते हुए उनसे काम लेना बुद्धिमानी होगी। सूर्य अभी शुभ नवांश में हैं और नए कार्यावसरों की प्राप्ति के लिए पूर्ण खोजबीन और जिम्मेदारी से निर्णय लेना होगा। नौकरी पेशा हैं तो वरीष्ठजनों का सहयोग लेकर और उनकी सलाह अनुरूप कार्य प्रणाली बरतना श्रेयस्कर होगा।

 

धनु - यह सप्ताह ईष्र्या और द्वेष से मुक्त रहकर व्यवहार प्रदर्शित करने का है। आपकी राशि के स्वामी अभी नीच राशि में अस्त हैं परंतु मिथुन नवांश में हैं, इसलिए व्यावसायिक सम्पर्क बढ़कार कोई आय वृद्धि का प्रयास कर सकते हैं। यात्रा को व्यावसायिक रूप देंगे तो लाभ ले सकेंगे। राशि से दूसरे भाव में कई ग्रहों की उपस्थिति आर्थिक तंत्र में सुधार का संकेत दे रही है। इन दिनों खान-पान का स्तर ऊंचा रखेंगे। किसी योजना का शानदार परिणाम सामने आने लगेगा। संतान की उन्नति होगी, उनकी चल रही समस्या का निराकरण हो सकेगा। दशमेश बुध अभी वक्री हैं, पुराना कोई छूटा हुआ अवसर या व्यावसायिक वार्ता पुन: आरम्भ होगी। अपने कार्यों में परिजनों का सहयोग मिल सकता है। किसी वरीष्ठ व्यक्ति की कृपा से कोई बड़ा अवसर हाथ लग सकता है, जिसमें धन और प्रसिद्धि दोनों प्राप्त हो सकती है। खर्च का बोझ कम होगा। कर्ज के निस्तारण या भुगतान में सरलता अनुभव करेंगे। स्वास्थ्य में कोई संक्रमण संबंधी थोड़ी परेशानी हो सकती है। यदि कहीं नौकरी करते हैं तो अचानक से कोई चुनौती आ सकती है। आपको अवसर मिलेगा कि आप योग्यता का प्रदर्शन कर अपना कद और आय की वृद्धि कर सके।

मकर- यह सप्ताह सावधानी और सतर्कता से काम करने का है। आमदनी होगी तो खर्चा भी भरपूर होगा। आपकी राशि मेें पांच ग्रहों की उपस्थिति इस सप्ताह को विशेष बना रही है, चूंकि आपके राशि स्वामी शनि अभी अस्त हैं राशि से सप्तम भाव में कर्क राशि पर मंगल सहित अन्य 5 और 6 ग्रहों की दृष्टि दाम्पत्य जीवन की सुख-शांति में बाधा बन सकती है। जीवनसाथी का स्वास्थ्य और स्वभाव दोनों ही आपको कुछ कठिन से प्रतीत होंगे। यात्राओं से बचें तो बेहतर होगा। यात्रा में कोई हानि या नुकसान की भी सम्भावना है। अपनी सामथ्र्य के आकलन में जरा सी चूक दु:खदाई हो सकती है। कार्य-प्रणाली में पारदर्शिता और समय-प्रतिबद्धता का ध्यान रखना होगा, अन्यथा अपयश और हानि प्राप्त हो सकती है। कार्यक्षेत्र में उत्पन्न असुविधा और अव्यवस्था को धन का अतिरिक्त प्रयोग कर सम्हाला जा सकता है। कर्मचारियों की अदला-बदली पर विचार करेंगे। अन्य किसी से व्यक्तिगत अपेक्षा अधिक न रखें, जितना अधिकाधिक कार्य स्वयं कर सकें उतना अच्छा। यदि नौकरी करते हैं तो कार्य-प्रणाली को व्यवस्थित रखें और योजनाबद्ध काम करें। अपना काम किसी के भी भरोसे छोडऩा बड़ी चूक हो सकती है।

कुंभ - यह सप्ताह आपके लिए व्यस्ततम और परिश्रमपूर्ण है। कार्य-व्यवसाय में गतिशीलता से और विविधता के कारण  श्रम अधिक करेंगे। कुछ का प्रतिफल प्राप्त होगा और कुछ का नहीं भी होगा। किसी तरह की न्याय-विरुद्ध कोई कार्यवाही या गतिविधि न करें, अन्यथा कोई कानूनी समस्या आ सकती है। राशि से बारहवें पांच ग्रहों की उपस्थिति आपके लिए शुभ नहीं। पारिवारिक कुछ समस्याओं के कारण आप आहत होंगे। अनिच्छा से मजबूरी में कोई यात्रा करनी पड़ सकती है और खर्चा भी करना पड़ सकता है। अभी राशि से आय और धन भाव के स्वामी गुरु अस्त हैं। किसी तरह के छद्म मार्ग या शेयर-सट्टे आदि से दूर रहें, कोई उम्मीद न रखें, वरना भारी हानि हो सकती है। अपने व्यावसायिक दस्तावेजों की शुद्धि और व्यवस्थित करने का उपक्रम आपके लिए हितकारी होगा। व्यावसायिक अर्थ प्रणाली की जांच कर लें या करवा लें तो आपके लिए बेहतर होगा। माता-पिता के स्वास्थ्य की चिंता हो सकती है और आप उनके लिए कोई सुरक्षित कदम उठाएंगे। पुराने मित्रों से मिलना-जुलना होगा। किसी धार्मिक स्थान की यात्रा कर सकते हैं। यदि नौकरी पेशा हैं तो दोहरी जिम्मेदारी निभानी होगी। आपको  पर-छिद्रान्वेषण और नीति-विरुद्ध कार्य व्यवहार से दूर रहना होगा वरना स्वयं का नुकसान कर बैठेेंगे।

मीन - यह सप्ताह निर्भय होकर दुस्साहस से निर्णय लेने का है। सूझ-बूझ से काम लिया तो आय का प्रतिशत बढ़ा सकते हैं। सहयोगियों व कर्मचारियों की वृद्धि करेंगे परंतु चयन में सावधानी आवश्यक है। कोई गुप्तचर भी आपके समूह में शामिल हो सकता है। अतिरिक्त मार्गों से भी आय हो सकती है। साझेदारी या संधि के व्यापार में पुनर्निरीक्षण और तात्कालिक कोई योजना परिवर्तन सम्भावित है। राशि स्वामी गुरु अभी अस्त हैं और मिथुन नवांश में हैं। सम्पत्ति के रख-रखाव और साज-सज्जा पर खर्चा करेंगे। कार्य-प्रणाली में व्यावसायिक नीतियों का प्रयोग बढाएंगे। धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। अपने स्वास्थ्य और सौन्दर्य पर खर्चा करेंगे। कार्य तंत्र को मजबूत करने हेतु संसाधनों की वृद्धि करेंगे और व्यवसाय को और अधिक सुदृढ़ करने की कोशिश करेंगे। जिन लोगों से कटु अनुभव प्राप्त हुए हैं, उनके संबंध में पुन: कोई परिवर्तित नीति का प्रयोग करेंगे। सार्वजनिक रूप से कहीं मान-सम्मान प्राप्त होगा। यदि नौकरी करते हैं तो कार्यों की प्रशंसा होगी, सम्मान मिलेगा, आय-वृद्धि का प्रस्ताव भी प्राप्त हो सकता है। नई जिम्मेदारी को सरलता से न लें, श्रम से पीछे न हटे।

देश

श्रीकांत, सात्विक-अश्विनी स्विस ओपन के क्वार्टरफाइनल में

श्रीकांत, सात्विक-अश्विनी स्विस ओपन के क्वार्टरफाइनल में

श्रीकांत, सात्विक-अश्विनी स्विस ओपन के क्वार्टरफाइनल में

उत्तर प्रदेश

उच्च शिक्षा का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्राथमिक विद्यालयों पर ध्यान देना जरूरीः आनंदीबेन

उच्च शिक्षा का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्राथमिक विद्यालयों पर ध्यान देना जरूरीः आनंदीबेन

उच्च शिक्षा का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्राथमिक विद्यालयों पर ध्यान देना जरूरीः आनंदीबेन

मुंबई

बेटी नितारा की इस हरकत से परेशान हुईं ट्विंकल खन्ना, वीडियो शेयर कर बोलीं- ‘बच्चों को स्कूल वापस बुला लो’

बेटी नितारा की इस हरकत से परेशान हुईं ट्विंकल खन्ना, वीडियो शेयर कर बोलीं- ‘बच्चों को स्कूल वापस बुला लो’

बेटी नितारा की इस हरकत से परेशान हुईं ट्विंकल खन्ना, वीडियो शेयर कर बोलीं- ‘बच्चों को स्कूल वापस बुला लो’

देश

ईपीएफओ ने वर्ष 2020-21 के लिए ईपीएफ जमा पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर तय की

ईपीएफओ ने वर्ष 2020-21 के लिए ईपीएफ जमा पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर तय की

ईपीएफओ ने वर्ष 2020-21 के लिए ईपीएफ जमा पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर तय की

देश

एनजीओ ने किया न्यायालय का रुख, सीबीआई निदेशक पद पर स्थायी नियुक्ति का किया अनुरोध

एनजीओ ने किया न्यायालय का रुख, सीबीआई निदेशक पद पर स्थायी नियुक्ति का किया अनुरोध

एनजीओ ने किया न्यायालय का रुख, सीबीआई निदेशक पद पर स्थायी नियुक्ति का किया अनुरोध


trending