Breaking news

  • देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 18,21,99,668 हो गया है। 18-44 वर्ष आयु वर्ग के 5,58,477 लाभार्थियों को आज COVID वैक्सीन की पहली डोज़ मिली। कुल मिलाकर 32 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में इस आयु वर्ग के लोगों को 48,21,550 डोज़ लगाई गई हैं: स्वास्थ्य मंत्रालय #CovidVaccine ।   
  • ब्लैक फंगस को हरियाणा में अधिसूचित रोग घोषित कर दिया गया है। इसके तहत किसी भी सरकारी और गैर सरकारी अस्पताल में अगर ब्लैक फंगस का कोई मामला आता है तो CMO को उसकी जानकारी देना अनिर्वाय होगा: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ।   
  • पुडुचेरी में पिछले 24 घंटों में 1598 नए #COVID19 मामले, 1774 डिस्चार्ज और 20 मौतें दर्ज़ की गई। सक्रिय मामले: 17,228   
  • देशभर में औसत 89% स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी गई है। राजस्थान में 95%, मध्य प्रदेश में 96% और छत्तीसगढ़ में 99% स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन दी गई है। दिल्ली में यह 78% है: डॉ वी.के. पॉल, नीति आयोग के सदस्य   
  • दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस की स्थिति और वैक्सीनेशन पर उच्च स्तरीय बैठक की।   

देश

डेंगू की जांच का नतीजा अब एक घंटे में मिलना हुआ आसान, आईआईटी दिल्ली ने डेवलप की नई डिवाइस

महामारी काल में हेल्थकेयर पेशेवरों के बढ़ते बोझ को कम करने की खातिर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली के शोधकर्ताओं ने अनोखा कारनामा अंजाम दिया है.

उन्होंने डेंगू की जल्दी पहचान के लिए डिवाइस विकसित किया है. दावा है कि डिवाइस की मदद से जांच के नतीजे एक घंटे में आ जाएंगे और एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में भी आसान होगा. आपको बता दें कि वर्तमान जांच की प्रक्रिया में एक दिन से ज्यादा लग जाते हैं.

 

एक घंटे के अंदर डेंगू की जांच करनेवाला डिवाइस विकसित 

संस्थान का कहना है कि आसान डिवाइस का सैंकड़ों लोगों से लिए गए ब्लड सैंपल पर सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है और ये एचआईवी का भी तेजी से पता लगाने में मदद करती है. शोधकर्ताओं ने बताया कि डेंगू की शीघ्र पहचान मरीज के स्वास्थ्य को खराब होने से रोकने की बुनियाद है. डिवास को आईसीएमआर-नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मलेरिया रिसर्च नई दिल्ली के सहयोग से तैयार किया गया है. डिवाइस की विशेषता बाजार में उपलब्ध अन्य टूल से छोटा और किफायती होना है.

 

सैंकड़ों लोगों से लिए ब्लड सैंपल पर सफलतापूर्वक परीक्षण  

प्रोजेक्ट से जुड़े मुख्य जांचकर्ता और आईआईटी दिल्ली में प्रोफेसर जेपी सिंह ने कहा, "इस अतिसंवेदनशील और आसान डिवाइस में कई तरह के एप्लीकेशन का इस्तेमाल किया गया है और जांच की रिपोर्ट एक घंटे के अंदर आ सकती है." परंपरागत किट से जांच की रिपोर्ट आने में समय लगता है और खर्च भी काफी महंगा पड़ता है. बयान में कहा गया कि सरफेस इंहैस्ड रमन स्पेक्ट्रोस्कोपी (एसईआरएस) आधारित प्लेटफॉर्म पर सिल्वर नैनोराड बायोसेंसर लगे होते हैं और डेंगू की जल्दी पहचान कर टेस्ट के नतीजे एक घंटे के अंदर देता है.

उत्तराखंड

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य में COVID19 स्थिति की समीक्षा बैठक

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य में COVID19 स्थिति की समीक्षा बैठक

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य में COVID19 स्थिति की समीक्षा बैठक

देश

साप्ताहिक राशिफल , पं. अशोक दीक्षित दिनांक - 16 से 22 मई, 2021

साप्ताहिक राशिफल , पं. अशोक दीक्षित  दिनांक - 16 से 22 मई, 2021

साप्ताहिक राशिफल , पं. अशोक दीक्षित दिनांक - 16 से 22 मई, 2021

दिल्ली

दिल्ली में अस्पतालों से ठीक होकर घर जाने वाले कोविड रोगियों के लिए ऑक्सीजन सांद्रक संबंधी एसओपी जारी

दिल्ली में अस्पतालों से ठीक होकर घर जाने वाले कोविड रोगियों के लिए ऑक्सीजन सांद्रक संबंधी एसओपी जारी

दिल्ली में अस्पतालों से ठीक होकर घर जाने वाले कोविड रोगियों के लिए ऑक्सीजन सांद्रक संबंधी एसओपी जारी

दिल्ली

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : पूनावाला

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : पूनावाला

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : पूनावाला

दिल्ली

भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी: हर्षवर्धन

भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी: हर्षवर्धन

भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी: हर्षवर्धन


trending