Breaking news

  • हमने राष्ट्रपति से अनुरोध किया कि वे सरकार पर ज्वाइंट सेलेक्ट कमेटी बनाने पर दबाव डालें क्योंकि सरकार कृषी क़ानून के मुद्दे पर विफल है। हमने मांग रखी कि सरकार आंदोलन के दौरान मरे किसानों के परिवार से मिले। सरकार मानना नहीं चाहती कि किसी किसान की मौत हुई है: हरसिमरत कौर बादल, SAD   
  • लोगों ने स्वतंत्रता संग्राम में ‘स्वराज’ के लिए लड़ाई लड़ी,आपको खुद को ‘सुराज’ के प्रति समर्पित करना होगा : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय पुलिस सेवा के परिवीक्षार्थियों (प्रोबेशनर्स) से कहा।   
  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में पिछले 24 घंटों में 41,649 नए #COVID19 मामले, 37,291 रिकवरी और 593 मौतें दर्ज़ की गई। कुल मामले: 3,16,13,993 सक्रिय मामले: 4,08,920 रिकवरी: 3,07,81,263 मृत्यु: 4,23,810 देशभर में अब तक वैक्सीनेशन के तहत 46,15,18,479 डोज़ दी गई हैं।   
  • बॉक्सिंग, पुरुष फ्लाईवेट (48-52 किग्रा) प्रारंभिक - राउंड ऑफ 16 में भारत के मुक्केबाज अमित पंघाल (फाइल तस्वीर) कोलंबिया के युबरजेन मार्टिनेज से 4-1 से हारे   
  • कमलप्रीत कौर ने 64.00 मीटर के थ्रो के साथ महिला डिस्कस थ्रो फाइनल के लिए क्वालीफाई किया।   

विदेश

कोविड-19 से लंबे समय तक पीड़ित मरीजों में दो सौ से अधिक लक्षण देखे गए: अध्ययन

लंदन : कोविड-19 से लंबे समय तक पीड़ित रहे मरीजों की 10 अंग प्रणालियों में दो सौ से अधिक लक्षण देखे गए हैं। लंबे समय तक कोविड-19 से पीड़ित लोगों पर हुए सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय अध्ययन के बृहस्पतिवार को प्रकाशित नतीजों में यह जानकारी सामने आई।

यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन (यूसीएल) के वैज्ञानिकों के नेतृत्व में किये गए अध्ययन में सामने आया है कि ज्यादा समय तक कोविड से पीड़ित रहने वालों में जो लक्षण सबसे ज्यादा देखे गए उनमें थकान, शारीरिक एवं मानसिक श्रम करने के बाद उपजी समस्याएं और मानसिक कमजोरी शामिल है।

इसके अलावा मरीजों में दृष्टिभ्रम, त्वचा में खुजली, माहवारी चक्र में परिवर्तन, यौन समस्याएं, स्मृति दोष डायरिया तथा अन्य लक्षण भी देखे गए। यूसीएल में ‘सैंसबरी वेलकम केंद्र’ में मस्तिष्क वैज्ञानिक डॉ एथेना एक्रामी ने कहा, “लम्बे समय तक कोविड से पीड़ित रहने पर सार्वजनिक रूप से बहुत चर्चा हो चुकी है, लेकिन ऐसे मरीजों पर व्यवस्थित अध्ययन बहुत कम हुआ है। इसलिए इन लक्षणों और समय के साथ उनके प्रभाव के बारे में बेहद कम जानकारी मिली है।” अध्ययन, लांसेट के ‘ई क्लिनिकल मेडिसिन’ शोध पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

उन्होंने कहा, “इस अनुसंधान में हम वैश्विक स्तर पर कोविड से लंबे समय तक पीड़ित रहे लोगों के पास सीधे गए ताकि हम उन मरीजों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें जो कोविड से लंबे समय तक पीड़ित रहे हैं। यह ऐसे मरीजों पर किया गया अब तक का सबसे बड़ा अध्ययन है।”

कुल 56 देशों के 3,762 लोगों पर किये गए अध्ययन में उनकी 10 अंग प्रणालियों में 203 लक्षण देखे गए और इनमें से 66 लक्षण सात महीने तक देखे गए।

मिजोरम

मिजोरम के राज्यपाल ने राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात की

मिजोरम के राज्यपाल ने राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात की

मिजोरम के राज्यपाल ने राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात की

देश

नायडू ने भारतीय भाषाओं की रक्षा में नवोन्मेषी, सहयोगपूर्ण प्रयासों का किया आह्वान

नायडू ने भारतीय भाषाओं की रक्षा में नवोन्मेषी, सहयोगपूर्ण प्रयासों का किया आह्वान

नायडू ने भारतीय भाषाओं की रक्षा में नवोन्मेषी, सहयोगपूर्ण प्रयासों का किया आह्वान

असम

विवादों और दंगों को बीज की तरह बोने का परिणाम भयानक होगा: राहुल

विवादों और दंगों को बीज की तरह बोने का परिणाम भयानक होगा: राहुल

विवादों और दंगों को बीज की तरह बोने का परिणाम भयानक होगा: राहुल

दिल्ली

आईआईटी फ्लाईओवर के नीचे सड़क का हिस्सा धंसा, यातायात प्रभावित

आईआईटी फ्लाईओवर के नीचे सड़क का हिस्सा धंसा, यातायात प्रभावित

आईआईटी फ्लाईओवर के नीचे सड़क का हिस्सा धंसा, यातायात प्रभावित

कर्नाटक

केंद्र कर्नाटक को 11,400 करोड़ रुपये का बकाया जीएसटी मुआवजा देने को राजी

केंद्र कर्नाटक को 11,400 करोड़ रुपये का बकाया जीएसटी मुआवजा देने को राजी

केंद्र कर्नाटक को 11,400 करोड़ रुपये का बकाया जीएसटी मुआवजा देने को राजी


trending