Breaking news

  • देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 18,21,99,668 हो गया है। 18-44 वर्ष आयु वर्ग के 5,58,477 लाभार्थियों को आज COVID वैक्सीन की पहली डोज़ मिली। कुल मिलाकर 32 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में इस आयु वर्ग के लोगों को 48,21,550 डोज़ लगाई गई हैं: स्वास्थ्य मंत्रालय #CovidVaccine ।   
  • ब्लैक फंगस को हरियाणा में अधिसूचित रोग घोषित कर दिया गया है। इसके तहत किसी भी सरकारी और गैर सरकारी अस्पताल में अगर ब्लैक फंगस का कोई मामला आता है तो CMO को उसकी जानकारी देना अनिर्वाय होगा: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ।   
  • पुडुचेरी में पिछले 24 घंटों में 1598 नए #COVID19 मामले, 1774 डिस्चार्ज और 20 मौतें दर्ज़ की गई। सक्रिय मामले: 17,228   
  • देशभर में औसत 89% स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी गई है। राजस्थान में 95%, मध्य प्रदेश में 96% और छत्तीसगढ़ में 99% स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन दी गई है। दिल्ली में यह 78% है: डॉ वी.के. पॉल, नीति आयोग के सदस्य   
  • दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस की स्थिति और वैक्सीनेशन पर उच्च स्तरीय बैठक की।   

लखनऊ

कोरोना के आंकड़े छुपा रही है उप्र सरकार : प्रियंका

लखनऊ : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने उत्तर प्रदेश सरकार पर कोरोना महामारी से जुड़े आंकड़े छुपाने का आरोप लगाते हुए बुधवार को कहा कि अगर सरकार पहले दिन से ही सचेत रहती तो शायद आज यह दिन नहीं देखने पड़ते।

प्रियंका ने कोरोना की ‘भयावह’ स्थिति को देखते हुए वीडियो कांफ्रेंस के जरिये आपात बैठक बुलाई। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष, नेता कांग्रेस विधायक दल, महासचिव समेत राष्ट्रीय महासचिव के सलाहकार मण्डल और रणनीति समिति के सदस्य शामिल हुए।

उन्होंने कहा, 'उत्तर प्रदेश की स्थिति सबसे ज्यादा विस्फोटक होने की कगार पर है जबकि राज्य सरकार लगातार आंकड़े छुपा रही है। अगर सरकार कोरोना महामारी के पहले दिन से ही सचेत रही होती तो शायद आज इस तरह के दिन नहीं देखने पड़ते। इस महामारी में पहले ही दिन से बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था करने के बजाय सरकार ने संक्रमण के आंकड़े और मौतों की संख्या को लगातार छुपाया है।' प्रियंका ने आरोप लगाया, 'कोरोना नियंत्रण को लेकर सरकार की कोई व्यवस्था और योजना ही नहीं दिख रही है। इसके बजाय ऐसा लग रहा है कि प्रदेश की जनता पर दोतरफा वार हो रहा है! एक तरफ से कोरोना और दूसरी तरफ से उत्तर प्रदेश सरकार की नाकाम, असंवेदनशील और गैर जिम्मेदार व्यवस्था। यह सारी स्थितियां सरकार और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अदूरदर्शिता और नकारेपन के कारण भी हुईं हैं। फिर भी उन्हें अब भी केवल अपनी छवि की चिंता है।' कांग्रेस महासचिव ने कहा कि प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक की चिट्ठी में साफ-साफ लिखा है कि लखनऊ में निजी अस्पतालों में जांच नहीं हो रही है और सरकारी संस्थानों के हालात यह हैं कि कोरोना की जांच रिपोर्ट में कई दिन लग रहे हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि वास्तव में प्रदेश सरकार के इस रवैये ने प्रदेश की जनता को मौत के मुँह में धकेलने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि गत पांच से 11 अप्रैल के बीच पूरे देश में कोरोना के 70 प्रतिशत मामले बढ़े हैं तो उत्तर प्रदेश में इस दौरान कोरोना मामलों में 281 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की 24 करोड़ आबादी में से अब तक एक करोड़ लोगों को भी टीके नहीं लग पाएँ हैं।

कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘‘आज स्थिति यह हो गयी गई है कि राजधानी लखनऊ में लाशों की कतार लग गई हैं। शवदाहगृहों पर लकड़ियों की कमी हो गयी है। प्रदेश का आम आदमी अपने परिजन का अंतिम संस्कार भी सम्मानित तरीके से करने में लाचार है। सुबह से देर रात तक शवगृहों और कब्रिस्तानों में लोग अपने मृत प्रियजनों का अंतिम संस्कार कर रहे हैं।’’ प्रदेश कांग्रेस प्रभारी ने कहा, ‘‘पार्टी इस विपत्ति की घड़ी में प्रदेश की जनता के साथ खड़ी है। वह जनता को हर तरह से सहयोग देने के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा फर्ज है कि संक्रमित लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए हम सरकार से मांग करें। उनके सवालों के लिए लड़ें। यह विपक्ष का धर्म है और हम दृढ़ता से इसे निभाएँगे।’’ प्रियंका ने सरकार के सामने 11 सूत्रीय मांगें भी रखी हैं, जिनमें प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की उचित व्यवस्था कराने, जाँच की रिपोर्ट 24 घंटे के भीतर उपलब्ध कराने, निजी प्रयोगशाला से जांच की सुविधा की अनुमति देने और आरटीपीसीआर जांच तुरंत बढ़ाये जाने, मरीजों के इलाज के लिए बिस्तर उपलब्ध कराने के वैकल्पिक बंदोबस्त करने, गरीब पीड़ितों के लिए सरकार की तरफ से आर्थिक मदद का पैकेज देने, कोविड से मृत मरीजों के अंतिम संस्कार की पूरी व्यवस्था करने और टीकाकरण अभियान की रफ्तार आपातकालीन तौर पर तुरंत तेज करना शामिल हैं।

तेलंगाना

तेलंगाना स्पूतनिक-वी वैक्सीन की दूसरी खेप हैदराबाद पहुंची।

तेलंगाना स्पूतनिक-वी वैक्सीन की दूसरी खेप हैदराबाद पहुंची।

तेलंगाना स्पूतनिक-वी वैक्सीन की दूसरी खेप हैदराबाद पहुंची।

विदेश

बाइडन और नेतन्याहू ने गाजा के हालात पर की चर्चा

बाइडन और नेतन्याहू ने गाजा के हालात पर की चर्चा

बाइडन और नेतन्याहू ने गाजा के हालात पर की चर्चा

देश

देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 18.22 करोड़ खुराक दी गईं

देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 18.22 करोड़ खुराक दी गईं

देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 18.22 करोड़ खुराक दी गईं

देश

स्वतंत्रता के बाद कोविड-19 देश की शायद सबसे बड़ी चुनौती : राजन

स्वतंत्रता के बाद कोविड-19 देश की शायद सबसे बड़ी चुनौती : राजन

स्वतंत्रता के बाद कोविड-19 देश की शायद सबसे बड़ी चुनौती : राजन

बिहार

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से 73 और मरीजों की मौत, 7,336 नए मामले

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से 73 और मरीजों की मौत, 7,336 नए मामले

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से 73 और मरीजों की मौत, 7,336 नए मामले


trending