Breaking news

  • महाराष्ट्र में कोविड के 43,697 नए मामले सामने आए और 46,591 ठीक हुए आज। कोविड से 49 लोगों की मृत्यु हुई है।   
  • भारतीय कप्तान यश धुल और पांच अन्य खिलाड़ी वेस्टइंडीज में आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप में कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए: बीसीसीआई अधिकारी।   
  • उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में #COVID19 के 4,402 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 1,956 लोग डिस्चार्ज हुए और 6 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई।   
  • केरल में पिछले 24 घंटे में #COVID19 के 34,199 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 8,193 लोग डिस्चार्ज हुए और 49 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई।   
  • दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके के पास दो संदिग्ध बैग मिले हैं। पुलिस को फोन कर इस बैग के बारे में जानकारी मिली थी:   

देश

द्वारकाधीश मंदिर में दिन में 5 बार बदला जाता है ध्वज, जानें इससे जुड़ी रोचक बातें

महाभारत काव्य में बताया गया है कि द्वारका भगवान श्री कृष्ण की राजधानी थी. बता दें कि ये शहर गुजरात में स्थित है. इतिहासकारों का मानना है कि द्वारकाधीश मंदिर का निर्माण भगवान श्री कृष्ण के पोते ने करवाया है. ऐसा अनुमान लगाया जाता है कि ये मंदिर 2500 वर्ष पुराना है. ये द्वारका मंदिर आज समुद्र में समाहित है. और इस द्वारका नगरी में द्वारकाधीश मंदिर स्थित है. 

बता दें कि मंदिर में दो मुख्य प्रवेश द्वार हैं. मुख्य प्रवेश द्वार को मोक्ष द्वार और दूसरे को स्वर्ग द्वार कहा जाता है. मंदिर 5 मंजिला बना हुआ है. मंदिर का स्तंभ 78.3 मीटर ऊंची है. इस बात को बहुत कम ही लोग जानते होंगे कि यहां मंदिर का ध्वज दिन में 5 बार बदला जाता है. जिसका निश्चित समय है. इतना ही नहीं, इसकी खास बात यह है कि इस ध्वज को भक्तों द्वारा ही स्पॉन्सर किया जाता है. यानी भक्त पहले ही बुकिंग करवा लेते हैं. 

बता दें कि द्वारकाधीश मंदिर का ध्वज 52 गज का होता है. इसके पीछे कई तरह के मिथक प्रचलित है. एक मिथक के अनुसार 12 राशि, 27 नक्षत्र, 10 दिशाएं, सूर्य, चंद्र, और श्री द्वारकाधीश मिलकर 52 हो जाते हैं. इसलिए ध्वज को 52 गज का रखा जाता है. वहीं, एक अन्य मान्यता के अनुसार एक समय में द्वारका में 52 द्वार थे और ये उसी का प्रतीक है. मंदिर का ये ध्वज एक खास दरजी द्वारा ही सिला जाता है. ध्वज बदलने की प्रक्रिया के दौरान उसे देखने की मनाही होती है. इस ध्वज पर सूर्य और चंद्र बने हुए हैं और ऐसा माना जाता है कि जब तक सूर्य और चंद्र रहेगा, द्वारकाधीश का नाम रहेगा. 

ऐसे बदला जाता है ध्वज

ध्वज बदलने के लिए भक्त एडवांस बुकिंग करवाते हैं. जिस परिवार को ये मौका मिलता है वे नाचते गाते हाथ में ध्वज लेकर आते हैं और भगवान को समर्पित कर देते हैं. यहां से अबोटी ब्राह्मण इसे ऊपर लेकर जाते हैं और ध्वज बदल देते हैं. मंदिर में ध्वज आरती के दौरान चढ़ाया जाता है. द्वारकाधीश मंदिर की मंगला आरती सुबह 7.30 बजे, श्रृंगार सुबह 10.30 बजे, इसके बाद सुबह 11.30 बजे, फिर संध्या आरती 7.45 बजे और शयन आरती 8.30 बजे होती है. इसी समय ध्वज बदला जाता है. 

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

मुंबई

Nia Sharma ने कराया ओपन शर्ट में 'Bold' फोटोशूट, तस्वीरें देख फैंस ने लिखा

Nia Sharma ने कराया ओपन शर्ट में 'Bold' फोटोशूट, तस्वीरें देख फैंस ने लिखा

Nia Sharma ने कराया ओपन शर्ट में 'Bold' फोटोशूट, तस्वीरें देख फैंस ने लिखा, 'क्या है यह सब'

मुंबई

मलाइका अरोड़ा की लेटेस्ट तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं,

मलाइका अरोड़ा की लेटेस्ट तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं,

मलाइका अरोड़ा की लेटेस्ट तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं, वजह है उनकी हॉटनेस।

मुंबई

फरदीन खान हुए कोविड पॉजिटिव, ट्वीट करके दी जानकारी

फरदीन खान हुए कोविड पॉजिटिव, ट्वीट करके दी जानकारी

फरदीन खान हुए कोविड पॉजिटिव, ट्वीट करके दी जानकारी

मुंबई

संगीत निर्देशक जोड़ी सचिन-जिगर द्वारा रचित गीत कौसर मुनीर द्वारा लिखे गए

संगीत निर्देशक जोड़ी सचिन-जिगर द्वारा रचित गीत कौसर मुनीर द्वारा लिखे गए

संगीत निर्देशक जोड़ी सचिन-जिगर द्वारा रचित गीत कौसर मुनीर द्वारा लिखे गए हैं, यह गीत आशा और सकारात्मकता की भावनाओं को चित्रित करता है।

मुंबई

मनीष पॉल ने शिल्पा शेट्टी को दिया बॉटल चैलेंज, वायरल हो रहा है वीडियो

मनीष पॉल ने शिल्पा शेट्टी को दिया बॉटल चैलेंज, वायरल हो रहा है वीडियो

मनीष पॉल ने शिल्पा शेट्टी को दिया बॉटल चैलेंज, वायरल हो रहा है वीडियो


trending