Breaking news

  • म.प्र. दतिया: प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की अगवानी में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, गिरिराज सिंह व जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने पीतांबरा देवी मंदिर में पूजा की।   
  • म.प्र. दतिया: प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की अगवानी में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, गिरिराज सिंह व जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने पीतांबरा देवी मंदिर में पूजा की।   
  • तेलंगाना: गृह मंत्री अमित शाह आज हैदराबाद के श्री भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा करेंगे। इसको देखते हुए मंदिर में सुरक्षा के इंतज़ाम किए गए हैं।   
  • नीति आयोग के सदस्य (कृषि) रमेश चंद ने कहा, आंदोलनकारी किसान नए कृषि कानूनों को पूरी तरह समझ नहीं पाए हैं।   
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के जरिए देश को संबोधित करेंगे   

देश

मेरे लिये यह मैच करो या मरो जैसा था : विजय शंकर

दुबई, 23 अक्टूबर (भाषा) आलराउंडर विजय शंकर ने कहा कि उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच को अपने लिये ‘करो या मरो’ की तरह लिया था तथा वह जानते थे कि बल्ले और गेंद दोनों से अच्छा प्रदर्शन करने पर ही वह सनराइजर्स हैदराबाद के अंतिम एकादश में अपना स्थान बचा सकते हैं।

मनीष पांडे (नाबाद 83) और शंकर (नाबाद 52) के बीच तीसरे विकेट के लिये 140 रन की अटूट साझेदारी की मदद से सनराइजर्स ने रॉयल्स के खिलाफ आठ विकेट से जीत दर्ज की। इससे उसके 10 मैचों में आठ अंक हो गये हैं और पांचवें स्थान पर पहुंच गया है।

शंकर ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘अगर मैं व्यक्तिगत तौर पर बात करूं तो यह मेरे लिये करो या मरो जैसा मैच था। मैं इस मैच को इसी तरह से ले रहा था। मैं बल्लेबाजी में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया था और इसलिए मुझे इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करना था। दुर्भाग्य से कहो या सौभाग्य से हमने शुरू में दो विकेट गंवा दिये और ऐसे में टीम ने मुझे ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी के लिये भेज दिया। ’’

गेंदबाजी में भी अच्छा प्रदर्शन करने वाले शंकर ने कहा कि टीम को पिछले दो मैचों में भी जीत दर्ज करनी चाहिए थी।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने अंतिम क्षणों में वे मैच गंवाये। इस तरह की जीत से टीम के हर सदस्य का मनोबल बढ़ेगा। हम बाकी मैच जीतकर टूर्नामेंट में अपनी उम्मीदें बरकरार रख सकते हैं। ’’

शंकर ने कहा कि सनराइजर्स के दो विकेट गंवाने के बाद उनकी योजना लंबी साझेदारी निभाने की थी।

उन्होंने कहा, ‘‘मनीष वास्तव में शुरू में गेंद को अच्छी तरह से हिट कर रहा था। मैंने असल में इस पारी से पहले इतनी अधिक गेंदों का सामना नहीं किया था। मैंने इस पारी से पहले केवल 18 गेंदें खेली थी इसलिए मेरे लिये उसका अहसास महत्वपूर्ण था। (जोफ्रा) आर्चर तेज गेंदबाजी कर रहा था और इसलिए मेरे लिये विकेट पर टिके रहना महत्वपूर्ण था। ’’

राजस्थान रॉयल्स के अब 11 मैचों में आठ अंक हैं और वह सातवें स्थान पर है। उसके मुख्य कोच एंड्रयू मैकडोनाल्ड ने कहा कि टीम के लिये अब बेहद सरल समीकरण हैं कि वह बाकी बचे तीनों मैच जीते और अन्य मैचों में अनुकूल परिणाम की उम्मीद करे।

मैकडोनाल्ड ने कहा, ‘‘चुनौती बहुत सरल है कि हम बाकी बचे तीनों मैच जीतें और देखें कि रन रेट में हमारी स्थिति क्या है। यह अपनी तैयारी जारी रखने और यह विश्वास बनाये रखने से जुड़ा है कि हमारी टीम अच्छी है। टीम के पास अब गंवाने के लिये कुछ नहीं है। ’’

DON'T MISS

हमदाबाद, दो जून गुजरात में चक्रवाती तूफान निसर्ग

DON'T MISS

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे लोग बिचौलियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं: मोदी

मनोरंजन

अनुष्का शर्मा की इस मैक्सी ड्रेस को पहन सकते हैं आप भी, बहुत कम है इसकी कीमत

अनुष्का शर्मा की इस मैक्सी ड्रेस को पहन सकते हैं आप भी, बहुत कम है इसकी कीमत

अनुष्का शर्मा की इस मैक्सी ड्रेस को पहन सकते हैं आप भी, बहुत कम है इसकी कीमत

राजस्थान

वीडियो वायरल होने के बाद राजस्थान में फिर राजनीतिक हलचल तेज, गहलोत ने डोटासरा संग मीटिंग बुलाई

वीडियो वायरल होने के बाद राजस्थान में फिर राजनीतिक हलचल तेज, गहलोत ने डोटासरा संग मीटिंग बुलाई

वीडियो वायरल होने के बाद राजस्थान में फिर राजनीतिक हलचल तेज, गहलोत ने डोटासरा संग मीटिंग बुलाई

दिल्ली

स्वीडन ने ‘दुनिया की फार्मेसी’ के रूप में भारत की भूमिका को माना

स्वीडन ने ‘दुनिया की फार्मेसी’ के रूप में भारत की भूमिका को माना

स्वीडन ने ‘दुनिया की फार्मेसी’ के रूप में भारत की भूमिका को माना

खेल जगत

आईएसएल: चेन्नईयिन एफसी, केरल ब्लास्टर्स ने गोल रहित ड्रॉ खेला

आईएसएल: चेन्नईयिन एफसी, केरल ब्लास्टर्स ने गोल रहित ड्रॉ खेला

आईएसएल: चेन्नईयिन एफसी, केरल ब्लास्टर्स ने गोल रहित ड्रॉ खेला

झारखण्ड

संविधान ही वह पुस्तक है, जिसने हमें एक सूत्र में पिरो कर रखा है :मुख्यमंत्री

संविधान ही वह पुस्तक है, जिसने हमें एक सूत्र में पिरो कर रखा है :मुख्यमंत्री

संविधान ही वह पुस्तक है, जिसने हमें एक सूत्र में पिरो कर रखा है :मुख्यमंत्री


trending