Breaking news

  • देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 18,21,99,668 हो गया है। 18-44 वर्ष आयु वर्ग के 5,58,477 लाभार्थियों को आज COVID वैक्सीन की पहली डोज़ मिली। कुल मिलाकर 32 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में इस आयु वर्ग के लोगों को 48,21,550 डोज़ लगाई गई हैं: स्वास्थ्य मंत्रालय #CovidVaccine ।   
  • ब्लैक फंगस को हरियाणा में अधिसूचित रोग घोषित कर दिया गया है। इसके तहत किसी भी सरकारी और गैर सरकारी अस्पताल में अगर ब्लैक फंगस का कोई मामला आता है तो CMO को उसकी जानकारी देना अनिर्वाय होगा: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ।   
  • पुडुचेरी में पिछले 24 घंटों में 1598 नए #COVID19 मामले, 1774 डिस्चार्ज और 20 मौतें दर्ज़ की गई। सक्रिय मामले: 17,228   
  • देशभर में औसत 89% स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी गई है। राजस्थान में 95%, मध्य प्रदेश में 96% और छत्तीसगढ़ में 99% स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन दी गई है। दिल्ली में यह 78% है: डॉ वी.के. पॉल, नीति आयोग के सदस्य   
  • दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस की स्थिति और वैक्सीनेशन पर उच्च स्तरीय बैठक की।   

दिल्ली

ऑनलाइन शॉपिंग करते समय प्रोडक्ट असली है या नकली, ऐसे पता लगाए

नई दिल्ली : कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण ज्यादातर लोग ऑनलाइन शॉपिंग कर रहे हैं। लोगों को अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर आकर्षक डील और ऑफर मिल रहे हैं। 

हालांकि, इस दौरान बड़े पैमाने पर नकली प्रोडक्ट की बिक्री भी की जा रही है। ऐसे में अब यह सवाल उठता है कि नकली प्रोडक्ट को पहचाने कैसे की जाए, तो इसका जवाब आपको हमारी इस खबर में मिलेगा।

यहां हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देने जा रहे हैं, जो आपके बहुत काम आएंगे। इससे आप प्रोडक्ट की पहचान कर सकेंगे।

मोबाइल ऐप के जरिए करें चेकिंग

इलेक्ट्रॉनिक और FMCG कंपनियां नकली प्रोडक्ट से बचाव के लिए एक खास तरह का QR कोड और होलोग्राम लगाने लगी है, जिसके जरिए असली नकली की पहचान हो सकती है। 

इसके अलावा नकली प्रोडक्ट की पहचान के लिए फूड रेगुलेटर FSSAI के Smart Consumer ऐप की भी सहायता ले सकते हैं। इसे Google Play Store से डाउनलोड करके इस्तेमाल किया जा सकता है।

ऐप में आपको QR code स्कैन करने और QR नंबर दर्ज करना होगा। इसके बाद प्रोडक्ट के मैन्युफैक्चरिंग डिटेल हासिल हो जाएगी। इस तरह प्रोडक्ट के असली और नकली होने की पहचान की जा सकेगी। 

मैन्युफैक्चरिंग और ब्रांडिंग से करें पहचान  

नकली प्रोडक्ट की पहचान कंपनी के लोगो और स्पेलिंग से की जा सकती है।

नकली सामान बेचने वाली कंपनियां बिल्कुल हूबहू logo बनाती हैं। लेकिन यह logo ब्रांड के logo से कुछ अलग होता है। साथ ही ब्रांड के नाम में स्पेलिंग की गलत प्लेसिंग करके नकली प्रोडक्ट की बिक्री करती हैं।

ऐसे में ऑनलाइन प्रोडक्ट खरीदते समय हमेशा ब्रांड के लोगो ध्यान से देखना चाहिए। साथ ही प्रोडक्ट की स्पेलिंग की भी सही से जांच पड़ताल करनी चाहिए।

अधिक डिस्काउंट वाला प्रोडक्ट हो सकते हैं नकली 

ऑनलाइन खरीददारी करते समय हमेशा चेक करना चाहिए कि जिस प्रोडक्ट को खरीद रहे हैं, उसका फिजिकल एड्रेस, ईमेल, फोन नंबर और कॉन्टैक्ट डीटेल है या नहीं। यदि यह सारी चीजे नहीं हैं, तो जरूर प्रोडक्ट फर्जी होगा।

साथ ही ऑनलाइन खरीददारी करते वक्त भारी डिस्काउंट के लालच में नहीं आना चाहिए।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ब्रांडेड आइटम, लग्जरी प्रोडक्ट पर एमआरपी (MRP) की तुलना में 70-80 प्रतिशत का डिस्काउंट नहीं मिलता है। ऐसे में अगर MRP से 70 से 80 प्रतिशत से अधिक छूट मिल रही तो समझ लें कि आइटम नकली हो सकता है।

प्रोडक्ट की वेबसाइट जरूर चेक करें

ऑनलाइन फर्जीवाड़ा फेक वेबसाइट के माध्यम से होता है। अक्सर लोगों को WhatsApp या किसी अन्य मैसेजिंग ऐप से Flipkart या Amazon पर भारी डिस्काउंट और डील मिलती है।

इस ऑफर के साथ एक लिंक दी होती है, जो कि फर्जी हो सकती है। ऐसे में इस लिंक से ऑनलाइन शॉपिंग करने से पहले वेबसाइट के नकली होने की जांच कर लें।

 

उत्तराखंड

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य में COVID19 स्थिति की समीक्षा बैठक

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य में COVID19 स्थिति की समीक्षा बैठक

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य में COVID19 स्थिति की समीक्षा बैठक

देश

साप्ताहिक राशिफल , पं. अशोक दीक्षित दिनांक - 16 से 22 मई, 2021

साप्ताहिक राशिफल , पं. अशोक दीक्षित  दिनांक - 16 से 22 मई, 2021

साप्ताहिक राशिफल , पं. अशोक दीक्षित दिनांक - 16 से 22 मई, 2021

दिल्ली

दिल्ली में अस्पतालों से ठीक होकर घर जाने वाले कोविड रोगियों के लिए ऑक्सीजन सांद्रक संबंधी एसओपी जारी

दिल्ली में अस्पतालों से ठीक होकर घर जाने वाले कोविड रोगियों के लिए ऑक्सीजन सांद्रक संबंधी एसओपी जारी

दिल्ली में अस्पतालों से ठीक होकर घर जाने वाले कोविड रोगियों के लिए ऑक्सीजन सांद्रक संबंधी एसओपी जारी

दिल्ली

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : पूनावाला

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : पूनावाला

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : पूनावाला

दिल्ली

भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी: हर्षवर्धन

भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी: हर्षवर्धन

भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी: हर्षवर्धन


trending