Breaking news

  • ये केरल एक जमाने में विकास के लिए जाना जाता था, केरल निरक्षरता को सबसे पहले परास्त करने वाला राज्य था और आज ये राज्य LDF, UDF इनके बारी-बारी के सत्ता के चक्कर में राजनीतिक हिंसा और भ्रष्टाचार का अखाड़ा बन गया है: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ।   
  • पूर्व राष्ट्रपति डॉ ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के बड़े भाई मोहम्मद मुथु मीरा लेब्बाई मरैकयर का निधन 104 साल की उम्र में रामेश्वरम में उनके निवास पर हुआ।   
  • राम मंदिर लगभग ढाई एकड़ में बनेगा और इसके चारों तरफ एक दीवार बनेगी जिसको परकोटा कहते हैं। बाढ़ के प्रभाव को रोकने के लिए ज़मीन के अंदर रिटेनिंग वॉल बनाई जाएगी। तीन वर्ष में ये काम पूरा हो जाएगा इस तैयारी से हम सब काम कर रहे हैं: चंपत राय, महासचिव, राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट   
  • इस बार के विधानसभा चुनाव में एक तरफ TMC है, लेफ्ट-कांग्रेस है, उनका बंगाल विरोधी रवैया है, और दूसरी तरफ खुद बंगाल की जनता कमर कसकर खड़ी हो गई है: प्रधानमंत्री   
  • पश्चिम बंगाल: अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती ने ब्रिगेड परेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया। मिथुन चक्रवर्ती आज भाजपा में शामिल हुए हैं।   

मुंबई

प्रियंका चोपड़ा को है फेयरनेस क्रीम को एंडोर्स करने का पछतावा, कही यह बड़ी बात

बॉलीवुड-हॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा किसी टाइम में फेयरनेस क्रीम का ऐड करती थीं। हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया कि भारत में स्किन व्हाइटनिंग क्रीम का विज्ञापन करने के लिए उन्हें लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा था। हॉलीवुड में कदम रखने के बाद प्रियंका चोपड़ा ने फेयरनेस क्रीम के विज्ञापन जैसे कैंपेन में हिस्सा लेना बंद कर दिया था। 

एक नई प्रोफाइल में प्रियंका चोपड़ा ने बताया कि एक भारतीय एक्टर के लिए फेयरनेस क्रीम का विज्ञापन करना कितनी साधारण बात है। इसके बारे में प्रियंका चोपड़ा ने अपनी लॉन्च होने वाली बुक ‘अनफिनिश्ड’ में खुलकर बात की है। 

प्रियंका चोपड़ा ने लिखा, ”साउथ एशिया में स्किन लाइटनिंग को एंडोर्स करना आम बात है। इंडस्ट्री इतनी बड़ी है कि हर कोई कर रहा है। बल्कि, आज भी इसे ठीक माना जाता है, जब एक महिला एक्टर इसे करती है, लेकिन यह गलत बात है। मेरे लिए भी यह करना गलत था। एक छोटी बच्ची जो चेहरे पर टैल्कम पाउडर लगाती थी, क्योंकि मैं विश्वास करती थी कि डार्क स्किन होना अच्छी बात नहीं है।”

प्रियंका चोपड़ा ने साल 2015 में खुद को इस तरह के प्रोडक्ट्स से दूर रखने का फैसला लिया था। बरखा दत्त संग एक इंटरव्यू में प्रियंका चोपड़ा ने कहा था कि मैं इसे लेकर बहुत बुरा महसूस करती थी, इसलिए मैंने फेयरनेस क्रीम का विज्ञापन करना बंद कर दिया। मेरे सारे भाई-बहन गोरे-चिट्टे थे। मैं ही केवल सांवली थी, क्योंकि मेरे पिता सांवले थे। सिर्फ मजे लेने के लिए मेरी पंजाबी फैमिली मुझे काली, काली, काली बुलाते थे। 13 साल की उम्र में मैं फेयरनेस क्रीम लगाना चाहती थी और चाहती थी कि मेरा सांवलापन दूर हो जाए। 

मालूम हो कि प्रियंका चोपड़ा की बुक ‘अनफिनिश्ड’ 9 फरवरी को रिलीज हो रही है। इसमें प्रियंका के बचपन, यूएस में रंग-रूप को लेकर होने वाले भेदभाव, मिस इंडिया और मिस वर्ल्ड का टाइटल जीतने, बॉलीवुड से हॉलीवुड की दुनिया में कदम रखने और चुनौतियों का सामना करने को लेकर खुलकर बात की है। 

देश

कम हो सकती है संसद सत्र की अवधि

कम हो सकती है संसद सत्र की अवधि

कम हो सकती है संसद सत्र की अवधि

मध्य प्रदेश

तीन नये कृषि कानूनों से विदेशी कंपनियां हमारे देश के किसानों का शोषण करेंगी : दिग्विजय सिंह

तीन नये कृषि कानूनों से विदेशी कंपनियां हमारे देश के किसानों का शोषण करेंगी : दिग्विजय सिंह

तीन नये कृषि कानूनों से विदेशी कंपनियां हमारे देश के किसानों का शोषण करेंगी : दिग्विजय सिंह

पश्चिम बंगाल

मोदी, शाह सबसे बड़े लुटेरे, ‘परिवर्तन’ दिल्ली में होगा, बंगाल में नहीं : ममता

मोदी, शाह सबसे बड़े लुटेरे, ‘परिवर्तन’ दिल्ली में होगा, बंगाल में नहीं : ममता

मोदी, शाह सबसे बड़े लुटेरे, ‘परिवर्तन’ दिल्ली में होगा, बंगाल में नहीं : ममता

विदेश

पोप ने इराक के ईसाइयों से मुस्लिम चरमपंथियों के अत्याचार माफ कर देने की अपील की

पोप ने इराक के ईसाइयों से मुस्लिम चरमपंथियों के अत्याचार माफ कर देने की अपील की

पोप ने इराक के ईसाइयों से मुस्लिम चरमपंथियों के अत्याचार माफ कर देने की अपील की

उत्तराखंड

उत्तराखंड में 18 मार्च को मनाया जाएगा 'बातें कम, काम ज्यादा'

उत्तराखंड में 18 मार्च को मनाया जाएगा 'बातें कम, काम ज्यादा'

उत्तराखंड में 18 मार्च को मनाया जाएगा 'बातें कम, काम ज्यादा'


trending